राज्यपाल  ने वाइफरकेशन में केक काटकर 81वां जन्मदिन मनाया।

तीन दिवसीय भ्रमण पर पीलीभीत पहुंची राज्यपाल, अफसरों/जनप्रतिनिधियों ने किया स्वागत।
पीलीभीत:वन विभाग के वीट वाचर, सुरक्षा श्रमिक, महावत एवं वायरलेस ऑपरेटरों को वितरित की गई फील्ड किट।
पीलीभीत : 21 नवम्बर 2022/सोमवार को उत्तर प्रदेश की  राज्यपाल आनंदीबेन पटेल अपने तीन दिवसीय भ्रमण के लिए हेलीकॉप्टर से जनपद पीलीभीत पहुंची, जहां पुलिस लाइन हेलीपैड पर मा0 मण्डलायुक्त संयुक्ता समद्दार, पुलिस महानिरीक्षक रमित शर्मा, जिलाधिकारी प्रवीण कुमार लक्षकार, पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी0, जिलाध्यक्ष संजीव प्रताप सिंह, विधायक पूरनपुर बाबूराम पासवान, जिला पंचायत अध्यक्षा डॉ0 दलजीत कौर ने पुष्प गुच्छ देकर उनका स्वागत किया। राज्यपाल ने पुलिस लाइन में गारद की सलामी ली। इसके बाद उनका काफिला वाइफरकेशन के लिए रवाना हुआ। जहां उन्होंने वाइफरकेशन में अफसरों का परिचय प्राप्त किया।  राज्यपाल  ने वाइफरकेशन में केक काटकर 81वां जन्मदिन मनाया

। इसके उपरान्त राज्यपाल  द्वारा मण्डलायुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, जिलाधिकारी व वन विभाग के अधिकारियों एवं वन कर्मियों से वार्ता की। उन्होंने वार्ता के दौरान वन कर्मियों को अपने साथ साथ अपने परिवार पर भी ध्यान देने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा उपलब्ध करायें, जिससे कि उच्चतम शिक्षा प्राप्त कर अच्छे पद को प्राप्त कर सकें।
मा0 राज्यपाल  ने वन कर्मियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि आपके द्वारा वन्य जीवों से समाज के लोगों की सुरक्षा की जाती है, हमसब का दायित्व है कि आपके परिवारों का देखभाल किया जाये, जिससे की सभी वन कर्मी अपने परिवार की देखभाल के साथ अपने दायित्वों का निर्वाहन कर सकें। उन्होंने प्रभागीय वनाधिकारी को निर्देशित किया कि वन कर्मियों के परिवार/बच्चों के लिए अस्पताल व स्कूल का निर्माण कराया जाये। उन्होंने कहा कि केन्द्र/राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के लाभ के बारे में वन कर्मियों से जानकारी ली और वन कर्मियों ने बताया कि योजना का लाभ मिल रहा है। उन्होंने मण्डलायुक्त, जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि 05 वर्ष तक के बच्चों का कक्षा 01 में प्रवेश दिलाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कक्षा 01 में प्रवेश की अन्तिम तिथि के बारे में जानकारी ली, जिसके बारे में जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि 30 सितम्बर तक के बच्चों का कक्षा 01 में प्रवेश कराया जा सकता है। इसके साथ ही उन्होंने वन विभाग के वीट वाचर, सुरक्षा श्रमिक, महावत एवं वायरलेस ऑपरेटरों को फील्ड किट वितरित की। उन्होंने कहा कि जो बच्चे इण्टरमीडिएट पास करने के उपरान्त स्नातक शिक्षा में प्रवेश नहीं लेते हैं उन बच्चों को चिन्हित कर प्रवेश दिलाना सुनिश्चित करें, जिससे कि कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न रह सके।
इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी धर्मेन्द्र प्रताप सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक पवित्र मोहन त्रिपाठी, नगर मजिस्टेªट डॉ0 राजेश कुमार, उप जिलाधिकारी कलीनगर, उप जिलाधिकारी सदर, जिला प्रोवेशन अधिकारी, अधिशासी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, अधिशासी अभियन्ता शारदा सागर सहित जनपद स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Share it please

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: