पण्डित सुशील कुमार पाठक की कलम से:”आप सबके संज्ञान मे है ही कि किस तरह से 19 जून 2022 इस्लामियां इन्टर कालेज के मैदान मे आईएमसी के मुखिया मौलाना तौक़ीर रजा खां ने भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र दामोदर दास मोदी जी का हिन्दू होने का मजाक

उडाया और कलमा पढने को कहा। मौलाना अपने मन मे हिन्दु धर्म को लेकर किस तरह की मानसिकता और मलिन्ता को सार्वजनिक तौर पर प्रकट किया है इससे हम जैसे लाखो लीगो की भावनाएं आहत हुई है। मौलाना तौक़ीर रजा ने अपने भाषण मे धमकी देकर हिन्दुओ को ट्रेन जलाने बाला बताया और कहा कि मुस्लिमों की बात इसलिए सुनी नही जाती कि हम ट्रेन नही जलाते जिसका मतलब है मौलाना मुस्लिम युवकों को ट्रेन जलाने के लिए भडका रहे है। मौलाना हमारे देश की चुनी हुई सरकार और देश संविधान पर अविश्वास जताते हुए उसका अपमान करते हुए कहते है। कि हम अपना ज्ञापन यूएनओ मे देगें । इसका मतलब है कि मौलाना हमारे सरकार और संविधान मे आस्था नही रखते। दिनांक 22 जून 2022 को एक प्रार्थनापत्र एफआईआर दर्ज कराने के लिए शहर कोतवाल बरेली के साथ अपर पुलिस महानिदेशक बरेली जोन बरेली को दिया था। लेकिन अभी तक इस विषय मे कोई कार्यवाही नही हुई। इस सम्बन्ध मे रविवार तक इंतजार किया और आज रविवार दोपहर एक बजे प्रेसबार्ता की जा रही है। बस्तुतः यह मांग और बिरोध का भाव सामाजिक सूचिता और गैर राजनीतिक निर्माण के लिए है । लोकतंत्र मे शक्ति प्रर्दशन और कानून को चुनौती देने की परम्परा का बिरोध हमारा सामाजिक दायित्व है। शब्दो और भावनाओं पर नियंत्रण रखना सामाजिक सद्भाव और समरस्ता का दर्शन हर छोटे बडे ब्यक्ति को सीखना ही होगा माननीय प्रधानमंत्री जी को अनाप-शनाप कहने की आजादी आरजकता है न कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और लोकतंत्र का भाव। इसी क्षोभ बस मैने तय किया कि अपने आमरण अनशन और सत्याग्रही आचरण से इस बिन्दु को उठाने का निश्चय किया है। 27 जून 2022 सोमवार सुबह दस बजे से श्री शिरडी साई सर्बदेब मंदिर श्यामगंज के गेट पर आमरण अनशन की शुरुआत।
साईनाथ इस सत्य संघर्ष मे मेरे साथ है।”
पंडित सुशील कुमार पाठक
सरबराकार
श्री शिरडी साई सेबा ट्रस्ट रजिस्टर्ड बरेली
9759697533

Share it please

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: